पुलिस को मिली सफलता

पुलिस को मिली सफलता

शाजापुर (मप्र) : शाजापुर जिला पुलिस को एक बार फिर सफलता मिली है पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र सिंह चौहान के मार्गदर्शन में बेरछा पुलिस ने अंधे कत्ल का पर्दाफाश किया है 1 फरवरी को ग्राम घुंशी के समीप एक अधजली लाश मिलने के बाद क्षेत्र में सनसनी फैल गई थी जिसकी बारीकी से जांच करने के बाद शव की शिनाख्त वंदना सोनी निवासी आष्टा के नाम से हुई। बेरछा पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर पुलिस अधीक्षक कार्यालय में मामले का खुलासा पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र सिंह चौहान ने किया। प्राप्त जानकारी के अनुसार 1 फरवरी को ग्राम घुंशी के समीप एक अधजली लाश मिली थी जिसकी सूचना ग्राम घटिया खुर्द के चौकीदार ने बेरछा पुलिस को दी थी जिसकी बारीकी से जांच करने के बाद एवं एफएसएल टीम ने स्पाट का निरीक्षण कर मिले बारिक बारिक साक्ष्यों की जांच के बाद  पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र सिंह चौहान ने  भी मौका मुआयना किया था। वही मौका स्थल से मिले साक्ष्यों के आधार पर बारीकी से जांच करने पर अधजले शव की शिनाख्त  आष्टा निवासी  वंदना सोनी के नाम से हुई। काफी जांच पड़ताल के बाद पुलिस ने  मामले का खुलासा कर दिया। बताया जा रहा है कि  वंदना सोनी मर्डर मामले में  पुलिस ने  हनीफा बी  एवं उसके साथी  रामचरण उर्फ गुड्डू के साथ साथ  आरोपियों को संरक्षण देने वाले  उसके बचपन के साथी  देवेंद्र को भी गिरफ्तार किया है साथ ही  मृतिका का मोबाइल  एवं घटना में उपयोग होने वाले वाहन को भी जप्त किया है। बताया जा रहा है कि मृतिका  वंदना सोनी  आरोपियों के मकान में  किराए से रहती थी। आए दिन उनके बीच में विवाद होते रहते थे। जिसको लेकर  मृतिका ने उनका मकान खाली कर दिया था। बताया यह भी जा रहा है कि मकान मालिक अंसार शाह से मृतिका के संबंध भी बताये जा रहे है जिसको लेकर भी आरोपी और मृतिका के बीच आए दिन विवाद होते रहते थे जिस पर पुलिस ने बारीकी से जांच करते हुए आरोपियों से पूछताछ की तब आरोपियों ने घटना को अंजाम देना कबूला जिस पर बेरछा पुलिस ने आरोपों के खिलाफ प्रकरण पंजीबद्ध कर लिया है।

Comment



ताज़ा उफ्फ

TWITTER FEED