रुक नही रहा अपहरण का सिलसिला

रुक नही रहा अपहरण का सिलसिला

सतना : मध्यप्रदेश का सतना जिला एक बार फिर मासूम के अपहरण के बाद हत्या की सुर्खियों में है। बीते माह जहाँ चित्रकूट में दो मासूमो का दिन दहाड़े स्कूल से लौटते वक्त स्कूल की बस से अपहरण कर लिया गया था और 13 दिन बाद मासूमो के शव उत्तरप्रदेश के अत्तरा से बरामद किए गए। इस घटना की दहसत से जिला उभरा नही की सतना जिले के नागौद थाना अंतर्गत रहिकवारा में मंगलवार की शाम बजे फिर एक साल के मासूम का घर के बाहर खेलते वक्त मोटर साइकिल सवारों ने अपहरण कर लिया। जिसके बाद देर रात लाख फिरौती की माँग की। इस घटना में 22 घंटे बाद और भी दुखद पहलू सामने आया है। अपहरण कर्ताओं ने मासूम की हत्या कर लाश गाँव के एक नाले  में फेंक दी थी। घटना को अंजाम देने वाला पड़ोस में रहने वाला अनुताब प्रजापति जो  आरोपी बच्चे का रिस्ते में चाचा निकाला। जिसने पुरानी रंजिश व पैसे की लालच में बच्चे का अपहरण किया था। बाद में पहचान की डर से मासूम की हत्या कर लाश बोरे में भरकर घर के नजदीक नाले में फेक दी। पुलिस ने 22 घंटे बाद आरोपी की निशान देही पर शव बरामद कर लिया है और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। लेकिन परिजनों का मासूम के अपहरण के बाद हत्या से रो रो कर बुरा हाल है। हत्या की वारदात के बाद इलाके में सनसनी फैल गयी है। मंगलवार की शाम इस घटना के बाद से रीवा आईजी-डीआईजी एसपी-एसपी सहित कई थानों के प्रभारी मौके पर पहुँच गए और आरोपी की घेराबंदी और तलाश शुरू कर दी थी। लीहज आरोपी गाँव से बाहर निकलने में असमर्थ हो गया। लेकिन इस घटना में दिल दहला देने वाला मंजर आज 22 घंटे बाद तब सामने आया जब साल के मासूम शिव प्रजापति का शव आरोपी के घर के पास नाले में मिला आरोपी नर पिसाच ने मासूम की हत्या कर उसे ठिकाने लगाया था। आरोपी नर पिसाच चाचा ने पुरानी रंजिश व पैसो की लालच में अपहरण कर लाख फिरौती  मांगी थी और जब खुद फँसता हुआ पाया तो हत्या कर दी। आरोपी अब पुलिस की गिरफ्त में है। इस बड़ी घटना के बाद से सतना जिले में शहर से लेकर गांव तक आक्रोश फैल गया है। एहतियातन भारी संख्या में पुलिस बल गाँव मे मौजूद है।

Comment