केंद्र सरकार ने बदला फैसला, पेश होगा अंतरिम बजट

केंद्र सरकार ने बदला फैसला, पेश होगा अंतरिम बजट

नई दिल्लीः केंद्र में रूलिंग सरकार अपना कार्यकाल पूरा करने से कुछ दिन पहले एक बजट पेश करती है जिससे सभी तरह के कार्य तय प्रक्रिया में चलते रहे | केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार लोकसभा चुनाव 2019 से पहले अतंरिम बजट पेश करेगी| इससे पहले खबर आई थी कि सरकार अंतरिम बजट के बदले आम बजट पेश करेगी| वित्त मंत्रालय की ओर से आए बयान के बाद अब सब कुछ साफ हो चुका है| इससे पहले कयास लगाए जा रहे थे कि मोदी सरकार अंतरिम बजट के बदले आम बजट पेश करेगी| आम बजट की खबर सामने आने के बाद कांग्रेस समेत कई विपक्षी दलों ने सरकार को घेरा था|

दरअसल, सरकार चुनाव से पहले अंतरिम बजट या फिर वोट ऑन अकाउंट पेश करती है| इसके जरिए सरकार करीब चार महीने का लेखा जोखा पेश करती है. इस बजट के जरिए सरकारी खातों में चार महीने तक के लिए खर्चा भेज दिया जाता है जिससे की कर्मचारियों और सरकार के अधीन काम कर रहे लोगों की सैलरी न रुके|

आने वाली सरकार सत्ता संभालने के बाद अपना पूर्ण बजट पेश करती है लेकिन चुनाव में जाने से पहले सरकार अंतरिम बजट पेश करती है| आने वाली सरकार बजट के प्रावधानों को बदल सकती है| पिछले कई सालों पर नजर डालें तो 2000 के बाद तीन बार अंतरिम बजट पेश किए गए हैं|

इस बार वित्त मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार संभाल रहे पीयूष गोयल बजट पेश करेंगे| केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली इलाज के लिए अमेरिका में गए हुए हैं ऐसे में गोयल को जिम्मेदारी सौंपी गई है|

Comment



ताज़ा उफ्फ

TWITTER FEED