एक खुशी ऐसी भी

यहाँ पढ़ें...

मध्यप्रदेश :  यह नाच..गाना ...जगमागाती आतिशबाजी ...यह मिठाई ....हर शख्स के चेहरे पर एक अलग ही रौनक ...माहौल कुछ ऐसा कि मानो सारी जहाँ की खुशियों ने आज यही डेरा डाल दिया हो | बिखरी खुशियों के असल वजह और कुछ नहीं बल्कि एक घर में लक्ष्मी का आगमन था | आज कई घरों में जब लड़की के जन्म लेने पर मायूसी जगह बना लेती है लेकिन इस पिछड़ी सोच के परे मप्र के जैसीनगर में एक परिवार ने बेटी जन्म लेने की ख़ुशी में जमकर खुशी मनाई | जिसने भी देखा पहले तो हैरान हुआ लेकिन बाद में वह भी इस ख़ुशी का साक्षी बन गया | रैकबार परिवार में बेटी के जन्म लेने के बाद से ही जश्न का माहौल शुरू हो गया | साथ ही इस परिवार ने बेटी बचाओ,बेटी पढाओ का संदेश देने का प्रयास किया | बेशक रैकवार परिवार ने अपने अंदाज में अपनी खुशियाँ ज़ाहिर की है लेकिन साथ ही जो संदेश दिया है ..वो कई अन्य परिवारों को बेटियों के प्रति सकारात्मक सोचने के प्रेरित करेगा |

Comments



ताज़ा उफ्फ

TWITTER FEED