मौत पर सस्पेंस बरकरार

मौत पर सस्पेंस बरकरार

मध्यप्रदेश : अंधविश्वास के चलते लोग न जाने क्या क्या करते है। झाड़ फूंक तो कहीं जादू टोना। ऐही ही एक खबर कुछ दिन पहले मध्यप्रदेश से आई थी जहां पिता से इतना लगाव था की उनकों डॉक्टरों व्दारा मृत पाये जाने के बाद भी झाड़ फूंक उन्हें ठीक करने का मामला सामने आया है। लेकिन असमंजस तो तब होता बेटा भोेपाल के एडीजी है जो पढ़ लिख कर इतनी बड़े पद पर पहुंचे है लेकिन आम नागरिक की रक्षा  करने वाले इस तरह की कोशिश कर रहे तो जनता से उम्मीद की जा सकती है। हाल ही  एडीजी राजेंद्र मिश्रा के पिता की मौत एक निजी अस्पताल में हुई थी लेकिन राजेंद्र मिश्रा इस बात को मानने के लिए तैयार नही है की उनके पिता कुलामणि मिश्रा की मौत हो चुकी है और इसलिए पिता लाश जिसे एक महिने से ऊपर हो गया है घर में रख कर झाड़ फूंक करा रहा है। खबर है   एडीजी राजेंद्र मिश्रा  का मामला.... डॉक्टरों के मृत घोषित करने के बाद भी करा रहे थे पिता का इलाज ....विभाग ने जानकारी मिलने के बाद गठित की थी मेडिकल टीम ...मेडिकल टीम को भी नहीं जाने दिया मिश्रा के सुरक्षाकर्मियों ने बंगले के अंदर।

Comment



ताज़ा उफ्फ

TWITTER FEED