शराब पर सरकारी मुहर

शराब पर सरकारी मुहर

मध्यप्रदेश : जब पुलिस ही थाने से शराब की पर्चियां जारी कर शराब बाटने लगे तो फिर शराबियों के लिए क्या कहने जी हाँ ऐसा ही हो रहा है  मध्यप्रदेश में जहाँ थाने की सील लगी शराब देने के लिए पर्चियां जारी हो रही है। मामला नरसिहपुर जिले का है जहाँ जिला कोतवाली और नरसिहपुर जिले के करेली थाने की सील लगी पर्ची सोसल मीडिया में सुर्खियां बाटोर रही है इन पर्चियों में नरसिहपुर जिले के थाने की सील लगी होने के साथ साथ वकायदा हस्ताक्षर है और इन पर्चियों के जरिये शराब देने की बात हो रही है और जानकर इसे गैर जिम्मेदाराना काम करार दे रहे। आशीष नेमा सामाजिक कार्यकर्ता वहीं इस पूरे मामले में करेली पुलिस अपनी मजबूरी बता रही है उनका कहना है कि क्षतविक्षित लाश को एकजुट करवाने के लिए सफाई कर्मियों को शराब देना पड़ता है तब कहि जाकर सफाई कर्मी काम करते है। एम एल चौधरी थाना प्रभारी करेली। नशा मुक्त देश बनाने के लिए सरकार करोड़ो रूपये खर्च कर रही है। तो बड़े बड़े कार्यक्रम कर लोगो को नशे से दूर रहने की हिदायत दी जाती है। इतना ही नही जन सेवा देश भक्ति के नारे के साथ पुलिस भी नशे के कारोबार को रोकने के लिए समय समय पर मुहिम भी चलाती है। लेकिन इस तरह से शराब के लिए थाने की सील का उपयोग करना कितना जायज है। शायद इसलिये ही जिले के पुलिस कप्तान इस पूरे मामले पर जांच करने के बाद कार्यवाही की बात कर रहे है। गुरुचरण सिह पुलिस अधीक्षक नरसिहपुर। पुलिस थाने की इन पर्चियों ने सोशल साइड पर सुर्खियां तो बटोर ली है और ये भी साबित कर दिया है कि शराब दुकानों पर पुलिस की पर्चियां चलती है और चले भी क्यो न साहिब बर्दी वाले जो है बहरहाल देखना यह होगा कि ये पर्चियां आगे भी जारी रहेगी या फिर जांच के बाद रोक लगेगी।

Comment



ताज़ा उफ्फ

TWITTER FEED