उफ्फ, ये कैसा प्रदर्शन

उफ्फ, ये कैसा प्रदर्शन

उज्जैन (मप्र) : उज्जैन में युवक कांग्रेस का प्रदर्शन, क्षीर सागर से संघ कार्यालय जा रहे युवक कांग्रेस के 50 से अधिक कार्यकर्ताओ को पुलिस ने बीच में ही रोका, जमकर नारे बाजी के बीच पुलिस जबरन गाड़ी में बिठा कर उन्हें वापस क्षीर सागर छोड़ा।  इस बीच आप खुद देखिये की युवक कांग्रेस के कार्यकरता  किस तरह मुस्कुराके के पुलिस की गाड़ियों में बैठ रहे थे जैसे की  प्रदर्शन महज एक दिखावा था। 

 30 जनवरी 1948 को नाथूराम गोडसे ने बापू को गोली मार दी थी, लेकिन  30 जनवरी 2019 को अलीगढ़ में बापू के पुतले को गोली मारी गई। हिंदू महासभा की राष्ट्रीय सचिव पूजा शकुन पांडेय ने गांधी जी की तस्वीर को नकली बंदूक से तीन गोलियां मारी। गोली लगने के बाद बापू की तस्वीर से खून बहते हुए दिखाया गया। शगुन पांडे के साथ हिंदू महासभा के दो अन्य कार्यकर्ताओं ने भी बापू की तस्वीर पर गोलियां चलाईं। इसका वीडियो वायरल होने के बाद देश भर में इस घटना को लेकर आक्रोश दिखा और आज उज्जैन में युवक कांग्रेस ने प्रदर्शन किया और संघ कार्यालय जाने की कोशिश की लेकिन इस बीच देवास गेट पर बड़ी संख्या में लगी पुलिस ने बीच में ही रोक दिया और आगे भी नहीं जाने दिया| जिसके बाद युवक कांग्रेस के कार्यकरता  संघ और शगुन पांड्य के खिलाफ नारेबाजी करने लगे इस बिच पुलिस ने रोड खाली कराने और लाइन ऑर्डर बिगड़े ने पहले सभी 50 से अधिक कार्यकर्ता को जबरन पुलिस वेन में बिठा लिया और वापस जिस जगह  से कार्यक्रम शुरू किया था उसी जगह वापस छोड़ दिया।  इधर पुलिस वेन  में कार्यकर्ताओ को जबरन डालते हुए जो दृश्य दिखा वो काफी हैरान करने वाला था दरअसल युवक कांग्रेस के कायकर्ता हँसते खिलखिलाते मजाक करते हुए गाड़ी में बैठ रहे थे वंही पुलिस भी हसती हुई कार्यकरतो को बिठा रही थी।

Comment



ताज़ा उफ्फ

TWITTER FEED