जलियांवाला बाग हत्याकांड : 100वी बरसी आज

जलियांवाला बाग हत्याकांड : 100वी बरसी आज

नई दिल्ली : 13 अप्रैल 1919 में आज ही के दिन अमृतसर के जलियांवाला बाग में हजारों लोग बैसाखी के पावन पर्व को मनाने के लिए इकट्ठा हुए थे। जहां गवर्नव जनरल माइकल डायर के कहने पर ब्रिटिश सेना ने खुशी के इस अवसर को खूनी रविवार में तबदील कर दिया था। ब्रिटेन के पूर्व पीएम विंस्टन चर्चिल इस कृत्य को राक्षसी करार दे चुके हैं लेकिन ब्रिटिश सरकार अभी भी औपचारिक रूप से माफी मांगने को तैयार नहीं है। माफी की मांग केवल भारतीयों द्वारा ही नहीं की जा रही है बल्कि ब्रिटेन के सांसद और यहां तक की पाकिस्तान भी इसकी मांग कर रहा है। तो आखिर ब्रिटेन को माफी मांगने से दिक्कत क्यों है? इसका जवाब तो किसी के पास नही है।

                         

इस अकृत्य हत्या कांड के बाद हर किसी के दिल में आजादी पाने की इच्छा तेज होती जा रही थी। मगर उस दिन जो हुआ, इतिहास के माथे पर कलंक का टीका है। निहत्थे बेकसूर लोगों पर अंग्रेजी सेना ने अंधाधुंध हजारों राउंड गोलियां बरसा दीं। आज इस भयावह घटना को सौ साल बीत चुके हैं, लेकिन आज तक यह पता नहीं चल सका है कि कितने लोगों ने अपनी शहादत में अपनी जान गवाई था। 

पंजाब के सुनाम में जन्मे उधम सिंह को गवर्नव जनरल माइकल डायर की हत्या की वजह से जाने जाता हैं। उधम सिंह ने ही 13 मार्च, 1940 को लंदन के कैक्सटन हॉल में डायर को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया था

अपनी 21 साल पुरानी कसम पूरी करने के बाद उधम सिंह ने भागने की कोई कोशिश नहीं की और उधम सिंह को अंग्रेज पुलिस गिऱफ्तार करके ले जा रही थी। आज़ादी का ये मतवाला उस वक्त मुस्कुरा रहा था.. लंदन की अदालत में भी शहीद उधम सिंह ने भारत माता का पूरा मान रखा और सर तान कर कहा, 'मैंने माइकल ओ डायर को इसलिए मारा क्योंकि वो इसी लायक था। वो मेरे वतन के हजारों लोगों की मौत का दोषी था। वो हमारे लोगों को कुचलना चाहता था और मैंने उसे ही कुचल दिया। पूरे 21 साल से मैं इस दिन का इंतज़ार कर रहा था। मैंने जो किया मुझे उस पर गर्व है। मुझे मौत का कोई खौफ नहीं क्योंकि मैं अपने वतन के लिए बलिदान दे रहा हूं।

जिसके बाद से जलियांवाला बाग के नरसंहार ने हर भारतीय को झकझोर दिया था और आज भी उधम सिंह और उन हजारों लोगों जिनकी संख्या कितनी है किसी को नही पता, देश याद करता है। जब भी देशवासी इस कांड को याद करते है उनकी आंखे नम हो जाती है।

 

Comment



ताज़ा उफ्फ

TWITTER FEED