भाजपा ने पहले ममता बनर्जी को घाव दिया, फिर उस पर छिड़का नमक...उफ्फ!

भाजपा ने पहले ममता बनर्जी को घाव दिया, फिर उस पर छिड़का नमक...उफ्फ!

कोलकाता: घाव देकर यदि कोई नमक लगाए तो ‘उफ्फ’ निकलना लाजमी है. ममता बनर्जी के साथ बिल्कुल यही हो रहा है. पहले भाजपा ने ममता से उनके सबसे बड़े योद्धा को छीना, फिर अमित शाह ने पश्चिम बंगाल पहुंचकर उनके जख्मों पर नमक छिड़कने का काम किया. शाह ने अपने भाषण में कहा कि अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में बीजेपी 200 से ज्यादा सीटें लेकर आएगी. उन्होंने कहा, 'दीदी कहती हैं कि बीजेपी सभी दलों से दलबदल करती है. मैं दीदी को याद दिलाना चाहता हूं कि आपकी मूल पार्टी भी कांग्रेस ही थी. यह तो सुगबुगहाट है, जिस प्रकार की सुनामी मैं देख रहा हूं, वैसी ममता बनर्जी ने कल्पना भी नहीं की होगी.

उन्होंने कहा कि ये जो लोग बीजेपी में आ रहे हैं, कभी मां-माटी-मानुष के नारे के साथ आगे बढ़े थे. आज इन लोगों का ममता से मोहभंग हो गया. अमित शाह ने सवाल किया कि बंगाल में विकास क्यों नहीं हो रहा है? क्योंकि ममता केवल अपने भतीजे और करीबियों को मंत्री पद देना चाहती हैं. गरीबों के लिए वह कुछ नहीं कर रही हैं. जो केंद्र सरकार आम लोगों के लिए पैसे भेजती है, उन्हें जरूर मिलना चाहिए. उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने अपनी ताकत का अहसास दिला दिया है. अब आगामी विधानसभा चुनाव में भी पार्टी 200 सीटों से ज्यादा सीटों पर जीत दर्ज करेगी.

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की इस रैली में ममता के करीबी और प्रदेश सरकार के पूर्व परिवहन मंत्री सुवेंदु अधिकारी ने बीजेपी का दामन थाम लिया. उनके साथ अलग-अलग दलों के नौ विधायक और टीएमसी के दो बार के सांसद सुनील मंडल भी बीजेपी में शामिल हो गए हैं.

Comment



ताज़ा उफ्फ

TWITTER FEED