पूर्व रक्षा मंत्री जार्ज फर्नांडिस का निधन

पूर्व रक्षा मंत्री जार्ज फर्नांडिस का निधन

नई दिल्ली । 

अटल बिहारी वाजपायी के कार्यकाल के दौरान रक्षा मंत्री रहे जार्ज फर्नांडिस का मंगलवार सुबह निधन हो गया है। उन्होंने 88 वर्ष की उम्र में दिल्ली के मैक्स अस्पताल में अंतिम सांस ली। फर्नांडिस लंबे समय से बीमार चल रहे थे, और वह अल्जाइमर नाम की बीमारी से परेशान थे और उन्हें स्वाइन फ्लू भी था, आखिरी बार वो अगस्त 2009 से जुलाई 2010 के बीच तक राज्यसभा सांसद रहे थे।

वह एक समाजवादी नेता रहे हैं। इनके नेतृत्व में बहुत बड़ा रेल आन्दोलन चलाया गया था। आपातकाल लगाने के दौरान गिरफ्तारी से बचने के लिए जार्ज फर्नांडिस ने सिख का भेष बदला था। इसके बाद वे गिरफ्तार होने के बाद तिहाड़ जेल में गए। वहां कैदियों को गीता के श्लोक भी सुनाते थे। 1974 की रेल हड़ताल के बाद वह कद्दावर नेता के तौर पर उभरे और वे जमीन नेता रहे हैं। उन्होंने हमेशा मजदूर, गरीब, समाजिक न्याय की मांग लगातार उठाते रहे थे। उन्होंने बेबाकी के साथ इमर्जेंसी लगाए जाने का लगातार विरोध किया था।

इमर्जेंसी खत्म होने के बाद फर्नांडिस ने 1977 का लोकसभा चुनाव जेल में रहते हुए ही मुजफ्फरपुर लोकसभा सीट से लड़े और भरी मतों से विजय बने। जनता पार्टी की सरकार में वह उद्योग मंत्री बनाए गए थे। बाद में जनता पार्टी टूटी, फर्नांडिस ने अपनी पार्टी समता पार्टी बनाई और भाजपा का समर्थन किया। फर्नांडिस ने अपने राजनीतिक जीवन में कुल तीन मंत्रालयों का कार्यभार संभाला उद्योग, रेल और रक्षा मंत्रालय। उनके रक्षा मंत्री के कार्यकाल के दौरान परमाणु परीक्षण किया गया और करगिल युद्ध भी हुआ। करगिल युद्ध के दौरान सैनिकों के पास जाकर हौसला बढाया था। वह अपने जीवनकाल में नौ बार लोकसभा सांसद रहे हैं।

Comment



ताज़ा उफ्फ

TWITTER FEED