शिवराज सरकार की बड़ी घोषणा,मकान बनाने के लिए मिलेगी जमीन,माफियाओं से छुड़ा कर आपकी झोली में होगा जमीन का टुकड़ा


एक अदद आशियाना  .. भला किसका सपना नहीं होता है | लेकिन कई बार स्थितियां इस सपने के बीच में अड़चन बनकर सामने खड़ी हो जाती हैं | लेकिन अब यह संभव है | जी साहब .. यदि सरकार की घोषणा पर अमल हो पाया तो यह सम्भव होगा | 
 
 
जी हाँ.... प्रदेश में ऐसे कई गरीब निर्धन परिवार हैं जिनेक पास रहने के लिए न कोई मकान हैं और न उस मकान को खड़ा करने के लिए जमीन। अगर रहने के लिए घर है भी तो बड़े परिवार के लिए ऊठ के मुँह में जीरा के सामान।   ये लोग  आपको सड़कों के किनारे या फिर रेल्वे स्टेशन किए आस पास अक्सर  दिख ही जाते होंगे।  हर गांव शहर में ऐसे हजारों निर्धन परिवार हैं जिनके पास रहने के लिए कोई उचित व्यवस्था है है।  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अगली योजना इन्ही गरीब,निर्धन और बेसहारा लोगों के लिए होने जा रही है।  प्रदेश की शिवराज सरकार इन लोगों के लिए  मुख्यमंत्री भू-अधिकार योजना लेकर आई है।  
इसकी घोषणा सीएम शिवराज ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती के अवसर आज शनिवार  को की।  इस योजना का फायदा उन लोगों को मिलेगा जिनके पास रहने की जगह नहीं है।  उनके लिए जमीन/घर की व्यवस्था अब सरकार करेगी।  
पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती के अवसर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भू-अधिकार योजना का एलान करते हुए कहा कि "जिन लोगो के पास रहने की जगह नही है, उन्हे रहने के लिए हम जमीन का टूकडा देंगे।  उनके लिए शहरो में मल्टी बनाकर रहने का आशियाना देंगे।  गरीब जनता को जमीन देने के लिए सरकार माफियाओं से सरकारी जमीन का कब्ज़ा हटवा रही है।  इन माफियों से जमीन छुड़ा कर गरीबों को पट्टा दिया जायेगा।"

अपने बयान में सीएम शिवराज ने कहा कि माफियों से ली हुई जमीन देने के साथ साथ सरकार खुद इन ग़रीबों को खरीदकर जमीन  उपलब्ध कराएगी और जिन शहरों में जगह नहीं है वहां मल्टीस्टोरी बना कर गरीबों को आशियाना दिया जायेगा।