क्रिकेटर हसन अली पर फ़टे पाकिस्तानी,शिया है इसलिए छोड़ा कैच,भारतीय बीबी को भी जमकर कोसा


बेहद हसीन सपना पाले पाकिस्तानी क्रिकेट टीम को एक बड़ा झटका लगा और सारे ख्वाब स्वाहा गए|

      वैसे मैदान पर क्रिकेट टीम में 11 खिलाड़ी होते हैं। हर खिलाडी अपना बेस्ट देना चाहता है और करता भी है| लेकिन उफ्फ, किस्मत या फिर संयोग कभी कभी कुछ ऐसा होता है कि हार की स्थिति में टीम का कोई एक खिलाडी बलि का बकरा बन जाता है|

और फिर क्या? कोई ऐरा गैरा नथ्थू खैरा बजाना शुरू कर देता है|

    ICC 20 वर्ल्ड कप में India की हार के बाद कोहली को जमकर धोया गया| लेकिन अब पाक खिलाडी हसन अली धुल रहें हैं| ऑस्ट्रेलिया से हारने के बाद फायनल खेलने का मौक़ा गंवाने से पाकिस्तान की अवाम काफी भड़की है| हसन तो निशाने पर हैं ही, साथ में उनके परिवार को भी लपेट लिया गया| मामला खेल से हटकर शिया सुन्नी विवाद की सीमा में कूंद गया| 

     ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ सेमीफाइनल मैच में उन्‍होंने मैथ्‍यू वेड का कैच छोड़ दिया। वेड ने अगली तीन गेंदों पर तीन छक्‍के जड़कर ऑस्‍ट्रेलिया को फाइनल में पहुंचा दिया। अब पाकिस्‍तानी ट्विटर और इंस्‍टाग्राम हसन अली के खिलाफ बेहद कड़क बोल तो आपत्तिजनक टिप्‍पणियों से भरा पड़ा है। ट्रोल्‍स ने हसन अली के शिया होने और उनकी भारतीय पत्‍नी सामिया को भी नहीं बख्‍शा।

       सामिया को लेकर सोशल मीडिया पर जमकर गुर्राया जा रहा है। हसन अली को पाकिस्‍तान में 'गद्दार' तक कहा जा रहा है। ठीक वैसे ही जैसे, पाकिस्‍तान के खिलाफ मैच में खराब गेंदबाजी करने वाले मोहम्‍मद शमी को कहा गया था। हालांकि बाद में यह साफ हुआ कि शमी पर ज्‍यादातर ऐसी टिप्‍पणियां पाकिस्‍तानी यूजर्स की ओर से हुई थीं।

शिया मुसलमान हैं, हसन अली और उनकी पत्नी, भारतीय 
इंस्‍टाग्राम पर हसन अली और उनकी पत्‍नी सामिया आरजू के अकाउंट पर पाकिस्‍तानी यूजर्स के गंदे कमेंट्स की भरमार है। कोई उनसे पूछ रहा है कि सेमीफाइनल में रन कुटवाने के लिए उन्‍होंने कितने पैसे लिए थे।  अली की भारतीय पत्नी के लिए वो शब्द प्रयोग किए गए हैं,जो शर्मनाक हैं| । कुछ पाकिस्‍तानी हैंडल्‍स ने तो ट्वीट में कहा है कि हसन अली को आते ही गोली मार देनी चाहिए।

  खेल को खेल की तरह ही लिया जाए  तो बेहतर | लेकिन अक्सर हार की पीड़ा में घुलकर प्रशंसक हर हद को पार कर जाते हैं| 

चलो भाई मियां हसन  .. कुछ दिन तो झेलना होगा, तब तक हौसला बनाए रखो | बाकी खुदा खैर करे.....