गणेश जी को अर्पित राखी । कभी देखी न होगी ऐसी


भगवान गणेश को ऐसी राखी अर्पित की गई । जिसने देखा सिर्फ देखता ही रह गया । विशेष अष्ट धातु से बनी इस राखी का आकार 40*40 है । रक्षाबंधन के दिन इंदौर के खजराना गणेश को विधिवत पूजा अर्चना कर यह विशेष राखी अर्पित की गई ।
रक्षाबंधन की धूम चारो ओर हैं । इस अवसर पर हर बार की तरह इस बार भी विश्व प्रसिद्ध खजराना गणेश को 40 बाय 40 की, अष्ट धातु से निर्मित यह राखी समर्पित की गयी l इंदौर के जारी गोटा व्यवसायी पालरेचा परिवार द्वारा पिछले 18 वर्षों से इंदौर के खजराना गणेश जी को सतत बड़ी राखी रक्षाबंधन पर्व पर अर्पित की जाती है। हमेशा धार्मिक व सामाजिक संदेश देती राखी अर्पित करने का यह लगातार 19वां वर्ष है। इस बार राखी के माध्यम से कोरोना की दूसरी लहर से प्रभावित व तीसरी लहर आने की आशंका के बीच भगवान यह संदेश मानव को दे रहे हैं ।शान्तु व पुण्डरीक पालरेचा बताते हैं कि राखी निर्माण में परिवार के छोटे बड़े 15 सदस्यों ने अपना योगदान देकर करीब तीन माह में राखी का निर्माण किया है। इसमें अष्ट धातु का इस्तेमाल किया गया है। इसमें प्रयुक्त सामग्री अहमदाबाद, सूरत, जामनगर, दिल्ली व मुम्बई से लाई गई है। पिछले वर्ष की भांति इस वर्ष  खजराना गणेशजी को अभिषेक के पश्चात मंदिर के महंतों की सहायता से राखी पहनाई ।