सिद्धू बोले - पार्टी डोले | आखिर कांग्रेस का होगा क्या ?


कांग्रेस फूफा मौसा की पार्टी बन गई है | कभी मौसा रूठे तो कभी फूफा | छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री बनने की बारी का इंतज़ार कर रहे बाबा सिंहदेव अपने हक़ के लिए मैदान में कूंद पड़े हैं | तो वहां राजस्थान में पॉयलट - गहलोत शीत युद्ध बरक़रार है |  पंजाब में मामला सुलझाया ही गया था कि सिद्धू पाजी फिर हरे हो गए हैं | आलाकमान के दखल के बाद नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब कांग्रेस का प्रदेश अध्यक्ष तो बना दिया गया | लेकिन सिद्धू का आरोप है कि उन्हें फैसले लेने के अधिकार से वंचित रखा गया है | एक बार फिर तीखे तेवर दिखाते हुए सिद्धू ने चेतावनी दी है कि वह दर्शनी घोड़ा नहीं बन सकते है | उन्हें पार्टी से जुड़े फैसले लेने का पूरा अधिकार दिया जाए,वरना ईंट से ईंट खड़का दूंगा | 
 
देखिए सिद्धू का वो बयान जिसने कांग्रेस आलाकमान की परेशानियों को और बढ़ा दिया होगा |