महिला ड्राइवर ने दौड़ाई बस ! फिर जो हुआ ? देखिए वीडियो


बेटियाँ में है दम,नहीं किसी से कम । काम मुश्किल नहीं,बस ठान भर लें।  अब वो..चाहे घर का हो या बाहर का।  समय बदला,सोच बदली | बेटियां आज साइकल से लेकर हवाईजहाज उड़ाने तक में अपने आपको साबित कर रहीं हैं | ।  ऐसा ही एक नाम, इंदौर शहर की बेटी रितु नरवाले ।  
इंदौर की सड़कों पर पब्लिक ट्रांसपोर्ट की बस दौड़ी तो सभी की निगाहें मानो थम से गई | आश्चर्य नहीं बल्कि गर्व से | यह सब तब नुमाया हुआ जब ,बीआरटीएस (BRTS) की  बस को पहली बार किसी महिला ड्राइवर ने चलाया।  रितू ने स्टेयरिंग थामने से पहले बाकायदा कई दिनों तक ट्रेनिंग ली।  कड़ी ट्रेनिंग के बाद रितू ने गुरुवार को पहली बार 50 महिला यात्रियों को बैठाकर बस को इंदौर की सड़कों पर बेहिचक दौड़ाया | 
 पिंक बस को चलाने के लिए नहीं मिल रही थी महिला ड्राइवर 
इंदौर शहर में महिलाओं की सुविधा और सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए फरवरी 2020 में अटल इंदौर सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेस लिमिटेड (एआईसीटीएसएल)  द्वारा बीआरटीएस कॉरिडोर में पिंक बसों की शुरुआत की गई । यह पिंक बस महिलाओं के लिए चलाई गयी थी ।  जिसके तहत योजना थी कि इस बस में  ड्राइवर और कंडक्टर भी महिलाएं ही हो।  लेकिन महिला ड्राइवर ना मिल पाने के कारण लंबे समय से पुरुष ड्राइवर  द्वारा ही इन बसों को चलाया जा रहा था।  लेकिन कुछ समय पहले प्रबंधन को दो महिला ड्राइवर मिली। जिन्हे अच्छी तरह से ट्रेंड किया गया | 
यात्री बस चलाने के पहले भी दी गयी सुबह 3 बजे ट्रेनिंग 
गुरुवार को रितू को सड़क पर महिला यात्रियों  के लिए बस चलाने के पूर्व गुरुवार अलसुबह 3 से 5 बजे के बीच दो घंटे की ट्रेनिंग दी गई। जिसके बाद सुबह  7 बजे पहली बार उन्हें यात्रियों के लिए बस चलाने का अवसर दिया गया ।
रितु की हिम्मत और हौसले की सभी ने जी भर कर तारीफ की | वैसे प्रशंसा का हक़दार तो प्रशासन भी है,जिसने महिलाओं को आगे बढ़ाने के लिए गंभीरता दिखाई | 
    

Comments

Leave a comment