सभ्य समाज का उफ्फ़..हैवानी चेहरा


 एक मिनिट बारह सेकंड ...।

यह उस वीडियो का समय है,जो मरी मानवता को भी नँगा कर देता है ।

शर्म आएगी और गुस्सा भी...लेकिन क्या कीजिएगा...। क्योंकि अब यह नज़ारे आम से होने लगे हैं । क्या हो गया हमें ...किस मानसिकता की ओर चल पड़े हैं ।

घटना असम से है । पढ भी लिया होगा आपने और बहुतों ने वीडियो भी देखा होगा । लेकिन सोचा कितनो ने ? सिर्फ इतना कहकर जिम्मेदारी से मुक्त...उफ्फ़ यह क्या हो रहा है । पुलिस के सामने हैवान का एक शव पर कूदना ..कभी बेशर्म दर्शक तो कभी खुद पुलिस का भी बेजान शरीर पर लाठी बरसाना । वाकई क्या इन लोगों का दिल न था या यह खुद भी जिंदा लाश थे । देखिए यह ख़ास वीडियो...

 

https://youtu.be/ygAAB8jSrVQ

 

घटना घट चुकी..चर्चा भी चौड़ी हो चुकी । लेकिन उफ्फ़...मानवता चीखी भी है.. वक्त हैं गौर कर लें. ..सम्हलें..सम्हाल लें...अन्यथा ...उफ्फ़

नोट - स्थिति देखते हुए दृश्यों को Blur किया गया है