उफ़्फ़यह... चमत्कार नही...पाखंड है

यहाँ पढ़ें...

जिसको खबर लगी उसने वहां का कर लिया रुख...
अचानक नारियल की ग्राहकी बढ़ गयी ..
हाथों में पूजन सामग्री लिए भक्त उस स्थान पर पहुंचना शुरू हो गए ।
 सवारियों की मांग देखते हुए ऑटो और अन्य साधनों ने भी उस ओर का कर लिया रुख ।
जहां वीराना था...आज वहां आस्था - भक्ति का मेला है ..।
हो भी क्यों न....उस जगह संकट हरने वाले परमबल शाली हनुमान जी ने चमत्कार जो दिखाया है । 
सबसे पहले तो तय मानिए कि हमारी किसी भी प्रकार से आस्था पर ठेस पहुंचाने की मंशा कतई नही है लेकिन यदि इस नाम पर भोले भाले भक्तों को गुमराह करने का काम किया जा रहा है तो फिर #बिंदास_उफ़्फ़ बनती है । 
चलिये आपको भी लिए चलते हैं...वहां जहां एक बाबा ने आस्था का खेल रचा है । 
पूरा मामला राजधानी भोपाल से महज चंद किलोमीटर दूर बरखेड़ी ग्राम के पास का है ।
दावा किया जा रहा है कि अति प्राचीन हनुमान प्रतिमा खुदाई के दौरान प्रकट हुई है । 
खबर फैली तो लगा भक्तों का तांता । खबर की भनक हमारे सहयोगी एवं वरिष्ठ पत्रकार ब्रजेश जैन के कानों में जा ठसी । खुद ब्रजेश हनुमान जी में काफी आस्था रखते हैं लेकिन चमत्कार होनी वाली बात खटक गयी । 
मन न माना तो जा पहुंचे मौके पर । चमत्कारिक स्थान,प्रकट हुयी मूर्ति का मुआयना किया तो सच भरभरा कर सामने आ गिरा । 
तर्क के जबाब ब्रजेश को न मिले । 
हम आपको यह भी बताएंगे कि आखिर प्रतिमा प्रकट होने की अफवाह फैलाने के पीछे मकसद क्या था लेकिन उससे पहले जानिए कि ब्रजेश के वो तर्क जो झूठ के गिरेबान में झांकते हैं ।
 1. दावा है कि पौधा रोपण के लिए गड्ढा खोदते वक्त हनुमान जी का मुकुट दिखा, पौधों के लिए बाकी के सभी गड्ढे सिर्फ एक फिट के खोदे गए, जबकि प्रतिमा 5 फीट नीचे पाई गई !

2. मूर्ति एकदम नवीन बनावट की है जबकि प्राचीन मूर्तियों में बनावट भिन्न होती थी ।
३. मूर्ति पर ताजा छेनी और हथौड़ी के निशान स्पष्ट देखे जा सकते हैं
४. मूर्ति देखकर कोई भी कह सकता है कि इसका निर्माण हाल ही में हुआ होगा ।
5. मौके को देखकर साफ लगता है कि गड्ढा खोदकर मूर्ति बाद में रखी गई और उस पर मिट्टी डाल दी गई ।
6. प्राचीन मूर्तियों की मूर्ति का कलर फीका पड़ जाता है और सालों तक मिट्टी में दबे रहने के निशान अलग ही दिखाई देते हैं लेकिन यह प्रतिमा एकदम ताज़ी लगती है ।

७. मूर्ति खंडित नहीं है यानी यह कभी ना कभी स्थापित मूर्ति रही होगी, लेकिन मूर्ति पर कहीं भी चोला या पूजन के निशान दिखाई नहीं देते ।
 तर्कों खुद ही हर असलियत को बयां करते जाते है ।
अब सवाल यह उठता है कि ब्रजेश की थ्योरी ठीक है है तो आखिर झूठ का सहारा लेकर अफवाह को क्यों पकाया जा रहा है । तो चलिए इस्का भी खुलासा कर ही देते हैं । 
दरअसल बरखेड़ी की यह ज़मीन मन्नत बाबा ने खरीदी थी । बाबा की मंशा थी कि वह इस जमीन पर हाईटेक आश्रम की स्थापना करें । किस्मत ही खराब थी कि आसाराम, राम रहीम,निर्मल बाबा जैसे कई अन्य फर्जीयों का सच सामने आने के बाद बाबाओं की साख गिरती गयी । यही बड़ी वजह रही कि आस्था के नाम पर चलने वाली बाबाओं की दुकान की कमाई भी काफी गिर गयी । 
जब मन्नत बाबा के पास आश्रम स्थापना के लिए धन व्यवस्था न हो पाई तो बाबा ने दूसरा रास्ता अखितयार करने में ही भलाई समझी ।
योजना को आकार दिया गया । घोषणा की गयी ...पौधारोपण किया जाएगा । पौधा रोपने के लिए गड्ढा खोदते वक्त अचानक कुछ  टकराने के आवाज आई । सम्हाल कर खनन का कार्य किया गया और तय योजना के तहत हनुमान प्रतिमा को निकाल कर यह कहा गया कि प्राचीन प्रतिमा प्रकट हुई । 
योजना बहुत हद तक रंग लाई । महज 2 दिन के भीतर ही लाखो रुपये चढ़ोत्तरी आ चुकी है । चंदे के कट्टो ने जन्म ले लिया है । प्रसाद के दुकाने सज गयी है तो बड़े बड़े पांडाल लगना शुरू हो गए है । 
माहौल बनाने के लिए सुंदरकांड और भजनों का दौर जारी है । 
बाबा का दावा है कि अब इस स्थान पर हनुमान जी का भव्य मंदिर बनेगा । 
हद है...आस्था का सहारा लेकर कैसे यह पाखंडी बाबा धर्म का उपहास करने से भी नही चूक रहें हैं । शर्मनाक है कि भोले भाले भक्तों को गुमराह करके अपने स्वार्थ को सिद्ध में जुटे है । 
आपसे अपील है धर्म का सम्मान करें । धर्म के ठेकेदारों का खेल समझें । यह भक्ति नही बल्कि पाखंड को बढ़ावा देना है


बोलो बिंदास ...व्यवस्था से परेशान हो या फिर सकारात्मक कदमों के बाद आये बेहतर परिणाम ..सभी पर होगी नज़र 

Uff Yeh is a hindi news channel in India. Uffyeh.com is a growing hindi news website that focuses on delivering latest national and international news about business, politics, sports, entertainment, technology, lifestyle, astrology and more in hindi language. 

For more updates on hindi news, click on the links below:

Official website:

http://www.uffyeh.com/

Like us on Facebook:

https://www.facebook.com/uffyeh.official/

Follow us on Twitter:

https://twitter.com/uffyeh1

Subscribe To Our Channel:

https://www.youtube.com/channel/UCgKRWsh-aAilF67Lm6YKhIQ?view_as=subscriber

Comments



ताज़ा उफ्फ

TWITTER FEED