अब राम मंदिर को लेकर दिग्विजय ने क्या कर दिया ?

यहाँ पढ़ें...

मध्यप्रदेश : ऐसा लगने लगा है कि सत्ता का रास्ता राम से होता हुआ ही जाता है । कभी राम मंदिर का नाम बुलंद कर भाजपा ने सत्ता पर तो कब्जा किया ही...विश्व की सबसे बडे सियासी दल के रूप में भी अपने आप को स्थापित कर लिया । 
अब बदले समीकारणों को देखते हुए दिल्ली के तख्त पर पसरने के लिए बेकरार कांग्रेस ने भी राम नाम का सहारा ले लिया है । राहुल गांधी के मंदिर मंदिर भटकने के बाद कभी अपने कड़बे बयानों के लिए मशहूर दिग्विजय सिंह ने घोषणा आज चर्चा में है  । घोषणा कि..वह राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि देंगे । 
हालांकि यह जमीन अयोध्या में नही है बल्कि भोपाल लोकसभा सीट में होगी । रामनवमी के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल हुए दिग्गी ने जिला कांग्रेस कमेटी की खाली पड़ी ज़मीन को राम मंदिर को दान देने की घोषणा कर दी । दरअसल दिग्विजय सिंह 15 साल बाद चुनाव लड़ रहे है । कांग्रेस ने उन्हें भजपा के गढ़ माने जाने वाली भोपाल सीट से अपना उम्मीदवार बनाया है । यहां दिग्गी के मुख्यमंत्री वाले  कार्यकाल की यादें आज भी मतदाताओं के मन मष्तिष्क में घर करके बैठी है । बची खुची कमी दिग्गी के विवादस्पद बयान बाजी ने पूरी कर दी  । अब ऐसे में दिग्विजय सिंह अपनी छवि बदलने में पूरी तरह से जुटे है ।  टिकिट की घोषणा होते ही भोपाल लोकसभा सीट के मंदिरों की दूर्री नाप डाली ।
खैर छवि बदलना इतना भी आसान नही लेकिन कोशिश की जा सकती है ...लिहाजा राजा साहब जो अब तक राम के नाम पर राजनीति करने का आरोप भाजपा पर लगाते थे....आज वह खुद अपनी चुनावी नैया पार कराने के लिए राम नाम की पतवार थामे खड़े हैं

Comments



ताज़ा उफ्फ

TWITTER FEED