बीजेपी की लुटिया डुबोते नमूने ।

यहाँ पढ़ें...

<इसे कहतें है ... आ बैल मुझे मार  ...|
अब भले ही भाजपा अपनी दूसरी पारी के लिए हाड़ तोड़े पड़ी हो लेकिन पार्टी के भीतर कुछ ऐसे नमूने हैं जो लगता है कि पार्टी को सत्ता से बाहर करने की सुपारी ले बैठे हों | 
कहा जाता है मनी शंकर अय्यर,शशि थरूर जैसे कई नेता है जो कि .... कांग्रेस की ऐन वक्त पर अपने बोल बचन से वाट लगा देते हैं | 
लेकिन विश्व की सबसे बड़ी पार्टी के नेताओं को लगा कि भला वो कैसे पीछे रह सकते हैं  ... तो कून्द पड़े वो ...और तुल गए भाजपा की ही लंका लगाने | 
साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ...धर्म कर्म का कितना ज्ञान ....हमको कुछ नहीं पता लेकिन राजनीति में निल बटे सन्नाटा हैं ये ...भोपाल से लेकर दिल्ली तक सब जानने लगें  है | भाजपा आलाकमान ने समझाया भी ...कि मेहरबानी कर थोड़ा चुप हो लो | लेकिन भला ताज़ा ताज़ा राजनीति में कूदी साध्वी बिना बोले कहाँ रह पाती | 
बोलती भी हैं तो ऐसा कि कांग्रेस की चांदी ...| गोडसे को देशभक्त बताकर  हंगामा खड़ा कर दिया | चंद घंटे भी न गुजरे भाजपा ने बयान से किनारा कर साध्वी से माफी मांगने को कह दिया | कसमसाते हुये माफी मांग ली |
शाम भी न गुज़री और एक और नेता जी धप से कूद पड़े | भाजपा प्रवकता अनिल सौमित्र ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट को काला करते हुये लिखा कि 
''पाकिस्तान के जनक तो गांधी ही थे न ? जनक को पिता ही कहते हैं | 
यानि कि नेता जी ने गांधी को पाक का राष्ट्रपिता बताते हुये बाकी का रायता भी फैला दिया | 
कांग्रेस सारे मुद्दे छोड़ अब इस मुद्दे पर अटक गई है और यहाँ  भाजपा के बड़े नेता अपने बाल नोचें जा रहें है | लेकिन क्या करें ...भाजपा ने अपना रायाता ही ऐसे बड़बोले नेताओं के सामने रखा है जो उफ़्फ़ ...लगता है कि खाने से ज्यादा फैलाने में भरोसा रखते हैं

Comments



ताज़ा उफ्फ

TWITTER FEED