घोड़ा या गधा,हमें तो सभी में मोदी दिखा

यहाँ पढ़ें...

<आदरणीय मोदी जी, 
                सादर नमस्कार 
सर्वप्रथम तो आपको प्रचंड जीत के लिए हार्दिक बधाई एवं शुभकामनायें | बहुत मन था कि आपको महाजीत की बधाई के साथ मन की भावनाओं से भी अवगत करा सकूँ | सीधी पहुंच नहीं तो सोचा एक खुला पत्र ही लिख दूँ | शायद पीएम हाउस की  चौखट पर अपनी आमद दर्ज़ करा दे | 
 परिणाम के बाद आजकल सोशल मीडिया पर  एक खास संदेश वायरल है | हर बार सांसद पीएम चुनते थे यह पहली बार होगा कि पीएम ने सांसद चुने | सोशल मीडिया पर बहुत से बातें हवा में हों लेकिन इस बात में दम है  | 
चुनावी भाषण के दौरान आपने भी कहा था कि कमल निशान का बटन दबाओ,यह वोट सीधा मुझे जीतायेगा | ज़्यादातर भाजपा उम्मीदवार भी यही कहते थे कि कमल का बटन दबाकर मोदी को जीताओ | 
तो मोदी साहब ...आपकी बात मान कर कमल खिला  दिया | हालांकि आप पिछले कार्यकाल में पूरी तरह से हमारी आशाओं पर खरे न उतरे लेकिन एक बार और भरोसा बनता है | वैसे सच कहें तो कोई विकल्प भी न था ...|
खैर मुद्दे पर आता हूँ | पहली बार ही होगा कि 303 सीटों का सांसद एक ही है क्योंकि बटन दबा है तो आपके नाम पर | ज़ाहिर  है साहब ...आपसे इस बार दुगनी आशा हैं | देश की सुरक्षा,विदेश नीति,आर्थिक नीति बड़े निर्णय और बड़े काम  तो ठीक ...हमारे संसदीय क्षेत्र की बुनियादी सुविधाओं का भी ध्यान आपको ही रखना होगा | 
अब देखिये न आप ...हमने आपके नाम पर अभिनेता सन्नी देओल,रविकिशन,गायक हंसराज हंस,क्रिकेटर गौतम गंभीर आदि आदि को एक ही झटके में सांसद बना दिया  | उफ़्फ़...आप भी प्रभु चुन चुन कर नगीने लाएँ हैं | 
बहुत बड़े वाले हैं हम ...आपके कहने पर हमनें तो जो महिला चल फिर नहीं सकती,जो व्यवहारिक नहीं,जिस पर आतंकी होने का शक रहा,जो बोलने में बवाल हो ...लेकिन सिर्फ आपकी खातिर साध्वी प्रज्ञा को भी दिल पर पत्थर रखकर संसद तक पहुंचा ही दिया | प्रभु,हमने तो राजा महाराजा तक को नहीं बख्शा | मप्र की बात करूँ तो ऐसे उम्मीदवारों के चेहरे में आपको देखकर लाखो वोट से जीत दिला दी जिनको खुद उनके घरवाले भी अपना वोट देने से पहले दस बार सोचते  होंगे | हमें क्या ...घोडा हो या गधा ...हमें तो सभी में मोदी दिखा |
समझ से बाहर हैं ...यह सेलेब्रिटी करेंगे क्या ? न तो आम जन की परेशानी से वास्ता पड़ा है और न इतना अनुभव कि  क्षेत्र के विकास के लिए कुछ कर सकें | इन सभी को तो आटो ग्राफ देने का अनुभव होगा और हमें तो नाली,पानी,सड़क,नौकरी चाहिए | 
लेकिन छोड़िए न हमें क्या...हमें तो आपसे मतलब है | आप ही हमारे सांसद है ...आप ही पीएम और आप ही हमारी लिए केंद्र सरकार | 
इस बार मोदी साहब आपके कंधों पर बहुत बड़ी ज़िम्मेदारी है | वोट सीधा आपने लिया तो अब सीधी ज़िम्मेदारी आपकी | सांसदों की नकेल कैसे कसना है यह आप जानो | 
सच कहूँ तो मोदी जी इस बार काठ की हांडी चढ़ाई है आपने ...| माचिस हमारे पास ...आपको हमारे विश्वास के पैमाने पर खरा उतरना ही होगा ! इस बार फेकम फांक नहीं अन्यथा यह देश माचिस का उपयोग कर उस काठ की हांडी को स्वाहा करने से न चूकेगा वाला  | 
कहने को बहुत कुछ है लेकिन अपनी बात को यही विराम देता हूँ इस आशा के साथ कि सब कुछ मंगल होगा |
जय हिन्द 
आपका 
मतदाता

Comments



ताज़ा उफ्फ

TWITTER FEED