यहाँ नही आ सकते नेता जी

यहाँ पढ़ें...

पन्ना : मप्र का बुंदेलखंड क्षेत्र का जिला पन्ना..। नाम ज़रूर सुना होगा...यह वही जिला है जो हीरा उगलता है । यहां के प्रसिद्ध मंदिर और झीलें का आकर्षण...पर्यटकों को अपनी ओर खींचने को मजबूर कर देता है । लेकिन उफ़्फ़...फिर भी बुनियादी सुविधाओं से महरूम यह जिला पिछड़े जिलों में शुमार होता है । गुजरते वक्त के साथ ग्राम वासियों का गुस्सा उबाल मार रहा है । विरोध बुलन्द किया है..पन्ना से महज 25 किलोमीटर दूर बसा ग्राम उड़की के रहवासियों ने। लोगों ने ठान लिया है "नो रोड, नो वोट" तख्तियों पर उकेरे गये शब्दों और चेहरों पर उभर आये भावों ने साफ कर दिया है कि अब नेताओं को सबक सिखा कर ही रहेंगे । नराजगी इतनी है कि ग्रामीणों ने जूते की माला बनाकर कर रख ली है...नेता आया तो स्वागत इसी माला से होगा । गुस्सा जायज है...आज़ादी के सालों बाद भी न तो पानी मिल पा रहा है और न ..सड़क..। हालात यह हो चलें है कि सुविधा न होने के चलते ...अन्य क्षेत्रों के परिवार अपनी लड़की की शादी इस गांव में नही करना चाहतें है । गांव की छात्र - छात्राओं को पढ़ने के लिए 5 किलोमीटर का रास्ता तय करना पड़ता है । बरसात के मौसम में तो इस गांव के लोग मानो कैदी बनकर रह जाते हैं । वाकई सहने की एक सीमा होती है...लेकिन वोट न देना भी कोई समाधान नही । समय है ...ऐसे प्रतिनिधि चुनने की जो व्यक्तिगत लाभ से उठकर क्षेत्र को विकास के पथ पर बढ़ाने की काबलियत रखता हो .. तो वोट ज़रूर दें लेकिन समझ बुझ कर

Comments



ताज़ा उफ्फ

TWITTER FEED