मोदी समर्थक बच्चो के पास पहुंची प्रियंका... फिर क्या हुआ ?

यहाँ पढ़ें...

<

यदि कोई नेता अपने लाव लश्कर के साथ गुज़रे और उस समय रास्ते के दोनो ओर खड़े लोग धुर विपक्षी के नारे बुलंद करने लगें तो लाज़मी है कि कोफ्त होगी ।
जी हाँ ...कुछ ऐसा ही   हुआ ..मप्र के इंदौर में । कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का काफ़िला जहां से गुजर रहा था ..वहां कुछ बच्चे पीएम मोदी की निकलने की आस में खड़े थे । जैसे ही गाड़ियों का काफिला बच्चों के पास पहुंचा ...। बच्चे उत्साह में भर गए और मोदी मोदी के नारे लगाने लगे । 
गाड़ी में बैठी प्रियंका के कान तक ये नारे पहुंच गए । लेकिन प्रियंका ने बड़े दिल की मिसाल पेश करते हुए ...गाड़ी को रुकवाया और झटके से गाड़ी से उतर गईं । बच्चे शांत हो गए ये देखकर कि गाड़ी से उतरती शख्सियत मोदी नही है । 
बच्चें कुछ समझ पाते या कह पाते इससे पहले ही प्रियंका बच्चों के करीब थी । पूरे जोश के साथ बच्चों से हाथ मिलाया और अपने अंदाज में बोली...

आल द बेस्ट कहकर प्रियंका उसी फुर्ती से वापिस हो गई । 
बेशक बच्चों की मुलाकात मोदी से तो न हुई लेकिन प्रियंका का अपना पन देखकर नौनिहाल खुश हो गए । जिसने भी इस मंज़र को देखा ..वो प्रियंका के इस अंदाज का कायल हो गया । 
वाकई आम चुनाव में जिस तरह से माहौल में कड़वाहट घुली है.. उसमें इस तरह के मंज़र हल्का से मिठास का भी अहसास करा देते हैं

Comments



ताज़ा उफ्फ

TWITTER FEED