उफ़्फ़ यह मास्साब

यहाँ पढ़ें...

मध्यप्रदेश : मप्र में शिक्षा व्यवस्था का हाल देखिए..
शिक्षक की योग्यता देखकर मुंह से उफ़्फ़ निकलना तय...
7 साल से अतिथि शिक्षक है यह मास्साब..।
मास्साब को आते नही पहाड़े ..।
नही सुना सके 17 का पहाड़ा..।
कलेक्टर साहब के सामने खुल गई पोल ..।
नियमित करने की मांग लेकर पहुंचे थे मास्साब..।
शिक्षक का आरोप द्वेष भावना से नही किया जा रहा नियमित ..। 

Comments



ताज़ा उफ्फ

TWITTER FEED